Home Sahara India News सहारा इंडिया के मैनेजर ने दिया आस्वाशन एक सप्ताह में सभी ग्राहकों...

सहारा इंडिया के मैनेजर ने दिया आस्वाशन एक सप्ताह में सभी ग्राहकों को किया जाएगा भुगतान

Sahara India

मैच्योरिटी के बाद भुगतान नहीं करने पर सहारा इंडिया शाखा में लोगों ने जड़ा ताला

मैच्योरिटी के बाद भुगतान नहीं करने पर बुधवार को ग्राहकों का गुस्सा फूट पड़ा और सहारा इंडिया की सुल्तानगंज शाखा में लोगों ने ताला जड़ दिया। इसके बाद करीब दो घंटे तक दफ्तर के कर्मचारियों को बंधक बनाए रखा। इस दौरान ग्राहकों ने शाखा के बाहर जमकर हंगामा भी किया। ग्राहकों का कहना था कि हम राशि के भुगतान के लिए रोज कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन शाखा प्रबंधक आजकल कहकर टालमटोल कर रहे हैं। सुबह भी जब हम शाखा पहुंचे तो मैनेजर ने 5 अप्रैल को भुगतान करने को कहा।

सहारा इंडिया की ताज़ा खबरे पढ़े

स्थिति बिगड़ती देख कर्मचारियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस पहुंची और लोगों को समझा-बुझाकर ताला खुलवाया। ग्राहकों का आरोप है कि भुगतान की अवधि पूरा होने के बावजूद भी हम लोगों को बेवजह दौड़ाया जा रहा है। किसी की बेटी की शादी है तो किसी को इलाज के लिए पैसे की जरूरत है, लेकिन बैंक हमारी परेशानी नहीं समझ रहा है। ग्राहक सुरेश शाह ने बताया कि मेरे पैसे की अविधि 19 जुलाई 2020 को ही पूरा हो गया है। लेकिन अब तक भुगतान नहीं हो पाया है। वहीं प्रभात कुमार प्रभाकर ने बताया कि नवंबर 2019 में ही मेरी जमा राशि की अवधि पूरी को गई है। विनीता देवी ने बताया कि 12 जून 2020 को मेरा फंड मैच्योर हो गया है, लेकिन अब भुगतान नहीं हो पाया है। ग्राहकों ने मैनेजर कपिल कुमार पर आरोप लगाया कि वे अपने चहेते एजेंट के ग्राहकों को भुगतान कर रहे हैं।

मैनेजर ने दिया आस्वाशन एक सप्ताह में सभी ग्राहकों को किया जाएगा भुगतान

मैनेजर पूरे मामले को लेकर ब्रांच किया जा रहा है। साथ ही बैंक साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मैनेजर कपिल कुमार ने बताया की छुट्टी होने से परेशानी हो ग्राहकों का यह आरोप निराधार कि फंड वॉल्यूम है। एक साथ रही है। समस्या के निदान के है कि हम जान बूझकर राशि के पैसा ट्रांसफर नहीं हो पा रहा है। बाद एक सप्ताह में सभी ग्राहकों भुगतान के लिए टालमटोल कर धीरे-धीरे सभी का पैसा ट्रांसफर का भुगतान कर दिया जाएगा। रहे हैं।

Sahara India

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here